Thursday, 16 January 2014

रख विश्वाश



रख विश्वाश





नया आकाश
नयी संभावनाएं
नयी उड़ान
       ***
बनो सशक्त
लो मुट्ठी में आकाश
खूँदो जहान
       ***
रख विश्वाश
हौंसलों में उड़ान
छू ले आकाश

       ***

1 comment: